window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); जुलाई माह में विवाह के छह मुहूर्त 17 जुलाई से चार माह के लिए सोएंगे देव - MPCG News

जुलाई माह में विवाह के छह मुहूर्त 17 जुलाई से चार माह के लिए सोएंगे देव

शुक्रोदय के साथ ही 61 दिन बाद आज से फिर

*दैनिक प्राईम संदेश जिला ब्यूरो चीफ राजू बैरागी जिला *रायसेन*

शुरू होंगे मांगलिक कार्य
रायसेन. धन वैभव प्रेम सौंदर्य और सुख-समृद्धि के कारक शुक्र ग्रह 29 अप्रैल को अस्त हो गए थे। ज्योतिष राजेश व्यास देवनगर के अनुसार किसी भी शुभ या मांगलिक कार्य को करने के लिए शुक्र ग्रह का उदित होना बेहद जरूरी है। 29 जून की शाम पश्चिम दिशा में शुक्र का उदय हुआ। इसी के साथ अगले 17 दिन मांगलिक कार्य के लिए खुल गए हैं। आषाढ़ माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी पर बुध की राशि मिथुन में शुक्र ग्रह का उदय हुआ है। इस राशि परिवर्तन का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है।
शुक्रोदय के साथ विवाह के मुहूर्त भी खुल गए
17 जुलाई से पहले तक कुल मुहूर्त हैं,जिनमें विवाह किए जा सकते है। ज्योतिषाचार्य व्यास धरमशास्त्री पंडित ओमप्रकाश शुक्ला ने बताया कि इन तिथियों में विवाह के अलावा नामकरण जनेऊ मुंडन गृहप्रवेश भूमि पूजन भवन-वाहन आभूषण की खरीदारी करना शुभ होगा। उन्होंने बताया कि विवाह बंधन को सबसे पवित्र रिश्ता कहा गया है। इसलिए इसमें शुभ मुहूर्त का होना जरूरी है।् वहीं शादी के शुभ मुहूर्त के लिए नौ ग्रहों में गुरुए शुक्र और सूर्य का उदित होना भी जरूरी माना गया है। अगर रवि गुरु का संयोग हो तो यह और अधिक सिद्धिदायक और शुभ फलदायी होता है। जुलाई माह में 7, 9, 11, 12, 13 तथा 15 तारीख विवाह आदि के लिए शुभ हैं। 17 जुलाई को देवशयनी एकादशी के बाद चातुर्मास का आरंभ होगा। जिससे चार महीने तक मांगलिक और शुभ कार्यों पर रोक लग जाएगी।

Related posts

4 दिवसीय एफ.एल.एन. प्रशिक्षणशिविर का आयोजन शिवरीनारायण के विद्यालय में संपन्न

MPCG NEWS

शहडोल जिले के ग्राम पंचायत चापा स्कूल से अचानक लापता हुआ कम्प्यूटर आपरेटर

MPCG NEWS

बंजारीडांड में निर्मित पानी टंकी पूर्णतः गुणवत्ता युक्त एवं निर्धारित मापदण्ड अनुरूप ग्राम मदनपुर एवं अमरपुर में निर्मित पानी टंकी का भी किया निरीक्षण

MPCG NEWS

Leave a Comment