window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); भूख हड़ताल का आठवां दिन जमीन वापसी एवं जवारिया अधिग्रहण की अनियमितता के दोषियों को दंडित करने की लड़ाई है- बालमुकुंद।  - MPCG News

भूख हड़ताल का आठवां दिन जमीन वापसी एवं जवारिया अधिग्रहण की अनियमितता के दोषियों को दंडित करने की लड़ाई है- बालमुकुंद। 

भूख हड़ताल का आठवां दिन

जमीन वापसी एवं जवारिया अधिग्रहण की अनियमितता के दोषियों को दंडित करने की लड़ाई है- बालमुकुंद।

 

राजेश सिंह गहरवार सीधी

 

मझौली उपखंड के ग्राम मूसामूड़ी में टोंको-रोंको-ठोंको क्रांतिकारी मोर्चा की अगुआई में अपनी जमीन और जिंदगी बचाने की जारी जंग में आज 25 सितम्बर 2023 को भूख हड़ताल आठवें दिन भी जारी रही।       आज भूख हड़ताल पर रामचंद्र कुशवाहा और गुलाब सिंह गोड़ को अधिग्रहण प्रभावित किसान बालमुकुंद कुशवाहा ने अधिग्रहित भूमि की मिट्टी का तिलक लगाकर अनशन पर बैठाया गया। अनशन स्थल पर मौजूद किसानों के समक्ष अपनी बात रखते हुए बालमुकुंद कुशवाहा ने कहा कि हम किसान अपनी जमीन के जवारिया अधिग्रहण के विरोध में है ही साथ  ही हमारी भूमियों के अधिग्रहण में ब्यापक अनियमितता की गई है जिसके विरोध में भी हमारी लड़ाई है। ग्राम भुमका एवं मूसामूड़ी दोनों ग्रामों की जमीन दो फसली एवं सिंचित है किसानों के द्वारा जलकर का भी भुगतान किया जाता है किसानों के पास जलकर के भुगतान की रशीद भी है कुछ किसानों द्वारा व्यक्तिगत रूप से भी सिंचाई की सुविधा बनायीं गयी है इसके बावजूद भी मेसर्स आर्यन पॉवर कंपनी द्वारा पटवारी, तहसीलदार एवं अनुविभागीय अधिकारी से सांठ गाँठ करके किस्म असिंचित एवं बंजर के आधार पर अवार्ड राशि जमा की गयी है।यहाँ तक की कुछ किसानों के भूमि का मुआवजा बंजर किस्म के अनुसार तैयार किया गया है व उन्हीं किसानों को सिंचाई कूप एवं ट्यूब वेल का भी मुआवजा बनाया गया है। किसानों की निजी भूमियों तथा भूमि पर स्थिति समस्त परिसंपत्तियों के भू-अर्जन खातावार गड़ना पत्रक तैयार करने में व्यापक अनियमितता की गयी है जैसे किसानों के मेड,कूप,पेंड,मिट्टी का मुआब्जा नहीं बनाया गया है तथा अधिग्रहित भूमि का रकवा भी कम बताया गया है। किसानों की जमीनों का मुआबजा भी बहुत ही कम निर्धारित किया गया है। इसी तरह किसानो द्वारा अधिग्रहण एवं पर्यावरण सुनवाई में प्रस्तुत आपत्ति को भी नहीं सुना गया है। अधिग्रहण निरस्त किये जाने तथा फर्जी अधिग्रहण के दोषियो पर आपराधिक मुकदमा कायम होने तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी।

भूख हड़ताल स्थल पर यह किसान मौजूद रहे- शिव कुमार सिंह, राजेश कुशवाहा, रामशरण कुशवाहा, शीतल कुशवाहा, ईश्वरदीन सिंह, नंदलाल सिंह, विजय बहादुर सिंह, रामकुमार सिंह, लालमणि सिंह, लीलावती सिंह, लालदेव सिंह, चन्द्रशेखर सिंह, पुष्पराज सिंह, महावीर सिंह, हीरालाल कुशवाहा, सुखदेव सिंह, राजबहादुर सिंह, हरदत सिंह पुष्पराज सिंह, हरदत सिंह, कमलेश सिंह, श्यामवती सिंह, छोटेलाल सिंह, पंचम सिंह, चन्द्रपाल सिंह आदि।

Related posts

युवक ने जहरीला पदार्थ खाकर जीवन लीला की समाप्त

MPCG NEWS

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर महापौर श्रीमति प्रीति संजीव सूरी ने मंदिरों के आसपास व्यवस्था बनाने आयुक्त को दिये निर्देश*

MPCG NEWS

सेतु निगम में जमकर चल रहा भ्रष्टाचार मरम्मत के नाम पर हर साल लाखों का होता है खेल

MPCG NEWS

Leave a Comment