window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); CM हेल्पलाइन को ठेंगा दिखा रहे बैतूल जिले के उच्च अधिकारी, समय सीमा 7 दिन की और 2 साल में भी निराकरण नही - MPCG News

CM हेल्पलाइन को ठेंगा दिखा रहे बैतूल जिले के उच्च अधिकारी, समय सीमा 7 दिन की और 2 साल में भी निराकरण नही

कल होगी बैतूल दौरे पर मुख्यमंत्री से मिलकर शिकायत, जाने क्या है मामला ?

अधिकारी शासन को गलत जानकारी देकर कर बना देते है निराकरण के लिए दबाव

बैतूल। जिले के सरकारी अधिकारी-कर्मचारी शिकायतों-समस्याओं का निबटारा कराने के बजाय झूठी जानकारी देकर सीएम को आम लोगों के सामने झूठा साबित करने में लगे हैं। वे ऐन केन प्रकारेण मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर दर्ज शिकायतों को बंद कराकर अपने नंबर बढ़ाने में लगे हुए हैं। शिकायतकर्ता को धमकी दी जाती है, शिकायत वापस लेने का दबाव बना कर शिकायत बंद करवा देते हैं, मुख्यमंत्री से ही शिकायत का निराकरण करने की नसीहत तक दी जा रही है। इस तरह का सच भीमपुर तहसील क्षेत्र से सामने आया है। सीएम हेल्पलाइन 181 पर शिकायत का निराकरण लगभग 2 साल बाद भी नहीं हुआ है। इस प्रकरण के बाद राजस्व विभाग के ओहदे पर बैठे अधिकारी की गंभीर उदासीनता उजागर हुई है।


शिकायतकर्ता आज तक कार्यालयों के चक्कर काट रहे हैं। एल-1 पर शिकायत दर्ज कराने के बाद आवेदक ने एल-4 तक शिकायत की है, लेकिन समाधान नहीं हुआ है। इस मामले में जानकारी लेने पर अधिकारी गुमराह करने में लग गए हैं। इस वाक्ये के बाद सीएम हेल्पलाइन संदेह के घेरे में आ गई है।

एसडीएम ने दबाव बनाकर बंद करवा दी शिकायत

प्रकरण ये है कि शिकायतकर्ता अशोक पचोरिया की मां का अचानक ब्रेन हेमरेज होने के कारण उन्हें लाखों रुपए की सख्त आवश्यकता थी। ऐसी स्थिति में उन्होंने उनकी भूमि खसरा नंबर 433 /25 रकबा 1. 639 हेक्टेयर जो की भीमपुर में स्थित है जिसकी विक्रय अनुमति के लिए वर्ष 2019 में कलेक्टर के समक्ष आवेदन किया था। कलेक्टर द्वारा इमरजेंसी मेडिकल ग्राउंड एवं अन्य भूमि की सर्च रिपोर्ट एसडीएम भैंसदेही एवं तहसीलदार भीमपुर द्वारा जांच करवाने के उपरांत सीमांकन करवा कर भूमि विक्रय अनुमति प्रदान की थी। जिसके बाद उन्होंने भूमि विक्रय कर दी। लेकिन आसपास के कुछ लोगो द्वारा नक्शा दुरुस्त ना होने के कारण विवाद करने से क्रेता को भूमि क्लियर करके ना देने के कारण, रजिस्ट्री के समय सौदे के रुपए जोकि चेक द्वारा प्रदान किये थे उसे रोक लिया गया था और माता जी का हॉस्पिटल में स्वर्गवास भी हो गया जिसके कारण हम हॉस्पिटल एवं लोगों का कर्जा नहीं दे पा रहे हैं। सीएम हेल्पलाइन में शिकायत किए डेढ़ साल हो गए। एसडीएम रीता डेहरिया भैंसदेही ने निराकरण किए बगैर 5 जनवरी 2023 को दबाव बनाकर शिकायत बंद करवा दी।

पूर्व में कलेक्टर को शिकायत करते की
3 अप्रैल बैतूल दौरे पर सीएम से मिलकर शिकायत करेंगे

आवेदक अशोक पचोरिया का कहना है कि 3 साल हो गए अभी तक नक्शा दुरुस्त नहीं हो पाया है। ऐसे गंभीर मामले में अधिकारियों का अमानवीय चेहरा सार्वजनिक हो गया। हर माह होने वाली सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा के चलते अधिकारी बेबस और लाचार पर कहर ढा रहे हैं। इसकी शिकायत वे 3 अप्रैल को सीएम से करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया आम जनता के हित के लिए प्रदेश के मुखिया के द्वारा जारी किए गए सीएम हेल्पलाइन पर लगातार दर्जनों शिकायत होने के कारण क्षेत्र के अधिकारी कर्मचारी अपने ऑफिस के काम को छोड़कर सीएम हेल्पलाइन के शिकायतकर्ता को ढूंढने निकल जाते हैं, जागरूक लोगों ने मांग की है कि जिम्मेदारों को सीएम हेल्प लाईन में दर्ज शिकायतों की पूर्णरूपेण निष्पक्ष जांच करनी चाहिए, अगर शिकायत झूठी पाई जाती है तो, शिकायतकर्ता के विरूद्ध अपराध दर्ज करना चाहिए, साथ ही जिस अवधि में शिकायत का समाधान करना है, उसका ध्यान रखते हुए संबंधित जिम्मेदारों पर भी कार्यवाही प्रस्तावित करनी चाहिए, कई शिकायतकर्ताओं की शिकायत दबाव बनाकर बंद कराई जाती है, उस पर भी जांच कर कार्यवाही होनी चाहिए।

पूर्व की कलेक्टर जनसुनवाई में की गई शिकायत

Related posts

Betul ब्रेकिंग: दस हजार में बिका थाना प्रभारी और कांस्टेबल का ईमान, प्रेमचंद

MPCG NEWS

MP में फैसला ऑन द स्पॉट: घूसखोर पटवारी हुआ निलंबित

MPCG NEWS

चट्टान २२ सितम्बर को समूचे भारत में रिलीज़ 

MPCG NEWS

Leave a Comment