window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); Betul Crime: खुले संरक्षण में रेत माफियाओं की दादागिरी, नदियों का सीना कर रहे छलनी - MPCG News

Betul Crime: खुले संरक्षण में रेत माफियाओं की दादागिरी, नदियों का सीना कर रहे छलनी

घोड़ाडोंगरी तहसील समेत कई गांव में ठेकेदार खुलेआम कर रहे रेत की चोरी

बैतूल। मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में 47 रेत खदानों के लंबे समय बाद हुए ठेके के बावजूद अवैध उत्खनन जोरों पर जारी है। जिले की नदियों को सारे नियम कायदों को ताक पर रखकर छलनी किया जा रहा है। यह अवैध खनन हैदराबाद की रेत ठेका कंपनी पावर मेक खनिज विभाग के अधिकारियों के संरक्षण में काम कर रही है।

रेत ठेकेदार के बंदूकधारी लोग आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में बंदूक की नोक पर अवैध खनन करने में लगे हैं। डंप की आड़ लेकर ठेकेदार बेखौफ होकर मन चाही जगह से अवैध रेत निकाल रहा है। रोजाना एक सैकड़ा डंपर अवैध रूप से रेत नदियों से चोरी कर रहा है। जब मीडिया कर्मी इन अवैध रेत खदान पर पहुंचे, तो ठेकेदार ने सभी डंपरों को मौके से भगा दिया।

हैदराबाद की पावर मेक कंपनी ने जिले की 47 रेत खदानों का ठेका लिया है। लेकिन ठेकेदार को खनिज विभाग का खुला संरक्षण मिला हुआ है। जिससे ठेकेदार तय रेत खदानों की जगह नदी में कही से भी अवैध खनन कर रहा है। खनिज अधिकारी भगवंत नागवंशी से जब मीडिया ने रेत ठेके की जानकारी लेने का प्रयास किया तो उन्होंने जानकारी देने से साफ मना कर दिया और बोले जानकारी लेकर दिखाकर क्या कर लोगे। खनिज अधिकारी के इस बयान के बाद उनकी कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान खड़े हो गए है।

जिले में ठेकेदार के इस अवैध खनन की जानकारी कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस को भी है। उनके पास अवैध खनन के कुछ वीडियो पहले से आए हुए हैं। हालांकि कलेक्टर ने खनिज अधिकारी और पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर जल्द ही कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

Related posts

आपरेशन श्रष्टि बोरवेल: 45 घंटे से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, बोरवेल में फंसी ढाई साल की सृष्टि को बचाने की कोशिश जारी

MPCG NEWS

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को दिया गया जहर: कड़ी सुरक्षा के बीच अस्पताल में भर्ती

MPCG NEWS

VIDEO: युवक ने फेसबुक LIVE पर पिया जहर, हालत नाजुक

MPCG NEWS

Leave a Comment