window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); धड़ल्ले से हो रहा चैनपुर पटपरी के नाले पर ओवर ब्रिज का निर्माण ग्रामीणों ने उठाएं ओवर ब्रिज निर्माण पर सवाल - MPCG News

धड़ल्ले से हो रहा चैनपुर पटपरी के नाले पर ओवर ब्रिज का निर्माण ग्रामीणों ने उठाएं ओवर ब्रिज निर्माण पर सवाल

दैनिक प्राईम संदेश जिला ब्यूरो चीफ राजू बैरागी जिला

रायसेन

पहली बारिश में ही बह आएगा पुल वेस दीवार पर मटेरियल पर नहीं कीएक दिन भी तराई
रायसेन/सिलवानी। जिले की तहसील सिलवानी के अंतर्गत चैनपुर से चंद्रपुर के बीच पट पर पटवारी नदी के पुल पर ओवर ब्रिज निर्माण किया जा रहा है जो बहुत ही धीमी रफ्तार और घटिया तरीके से निर्माण किया जा रहा है इस ओवर ब्रिज पीएमजेएसवाय योजना के अंतर्गत ठेका श्री बालाजी इंफ्राटेक भोपाल के ठेकेदार अनुरंजन सिंह चौहान ने लिया।इस ओवर ब्रिज की लागत133.34लाख रुपये है।जो बेहद धीमी रफ्तार से ओवर ब्रिज का निर्माण।ग्रामीण भोलाराम गौंड,रंजीत पटेल रमको बाई, मेहरबान सिंह मेहरा ने मीडिया कर्मियों को बताया कि पटपरी की लोकल नदी के जंगल में ओवर ब्रिज का निर्माण शुरुआती दौर से ही घटिया और बेहद धीमी गति से हो रहा है।ठेकेदार का सुपरवाइजर आकाश शुक्ला द्वारा साइड सब इंजीनियर राजाराम साहू को निर्देशित किया गया है कि द्वारा नदीनालों की बजरी रेत नर्मदा नदी रेत में मिलाकर घटिया लोकल सीमेंट मिश्रण तैयार कर पुल की बैंस और दीवारों सहित पल की नई पर भी यह घटिया मिशन का लेप डाला गया है ग्रामीणों ने बताया कि मिश्रण डालने के बाद एक दिन भी इसकी पानी से तराई नहीं की गई जो पहली बार बरसात के पानी की की मार में ही धराशाई हो सकता है ।उन्होंने ठेकेदार anuranjan Singh Chauhan को ब्लैकलिस्टेड करने की भी मांग जिला प्रशासन से की है।
जंग लगे सरीर्यों को ओवर ब्रिज पुल निर्माण में किया जा रहा है इस्तेमाल
बताया जाता है कि ओवर ब्रिज के निर्माण में जंग लगे सरियों को पुल की दीवारों और नींव में किया जा रहा है। इससे घटिया ओवर ब्रिज निर्माण की पोल खुल रही है प्रधानमंत्री सड़क परियोजना भाग के रायसेन के महाप्रबंधक यशवंत सक्सेना कई मौके पर पोशाक निरीक्षण और मॉनिटरिंग करने नहीं पहुंचे जिससे ठेकेदारों के कर्मचारियों के घोसले बुलंद है और मनमानी तरीके से पुल निर्माण में लीपा पोती कर रहे हैं इस तरह सरकारों की लाखों रुपए की राशि ठेकेदार उनके कर्मचारियों द्वारा हार्पी जा रही है जंगल में चल रहे निर्माण कार्य को लेकर ना कोई सुनने वाला है और ना कोई विरोध करने वाला कोई ग्रामीण आवाज उठाता है तो सुपरवाइजर आकाश शुक्ला उन्हें अकड़ दिखाकर उनकी बोलती बंद कर देता है।

Related posts

मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की जनसभा जांजगीर चांपा लोकसभा क्षेत्र के 27 ,28 व 30 को*

MPCG NEWS

सुखदेव चरित्र की कथा का किया बखान, भागवत में सत्य को परमेश्वर कहा गया है पंडित – अमित महाराज

MPCG NEWS

कोरिया उप वनमंडल अधिकारी अखिलेश मिश्रा के कार्यकाल को इतिहास के पन्नों में दर्ज किया जाएगा

MPCG NEWS

Leave a Comment