window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); ग्राउंड में एक्टिव हुए शिवराज तो दिखने लगी एमपी की हकीकत - MPCG News

ग्राउंड में एक्टिव हुए शिवराज तो दिखने लगी एमपी की हकीकत

दनादन कर रहे अधिकारियों को ‘बोल्ड’

एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान का अचानक से मिजाज बदल गया है। शिवराज सिंह चौहान ने चुनाव से पहले मैदानी स्थिति को जानने के लिए खुद ही मोर्चा संभाल लिया है। वह ग्राउंड पर खुद जाकर चीजों को देख रहे और अधिकारियों पर कार्रवाई कर रहे हैं।

डिंडौरी। मध्य प्रदेश में विधानसभा के चुनाव करीब हैं और सरकार तक सरकारी मशीनरी के कामकाज को लेकर संतोषजनक फीडबैक नहीं आ रहा है। लिहाजा जमीनी हालात जानने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan Sudden Inspection) खुद मैदान में पहुंच रहे हैं। एक तरफ जहां गड़बड़ी करने वालों को निलंबित किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों का सम्मान किया जा रहा है। कुल मिलाकर मुख्यमंत्री चौहान का अंदाज बदला हुआ है। मुख्यमंत्री चौहान ने बीते दो दिनों में कई स्थानों का दौराकर जमीनी नब्ज को टटोला है।

मौके पर तीन को किया सस्पेंड

हालात बेहतर मिले तो कर्मचारियों को सम्मानित किया और जहां गड़बड़ी दिखी या शिकायत आई तो उन अधिकारियों को दंडित करने से भी नहीं चूके। मुख्यमंत्री चौहान शनिवार को डिंडोरी जिले के शहपुरा विकासखंड में बिलगांव मध्यम सिंचाई परियोजना का औचक निरीक्षण कर ग्रामीणों और किसानों से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने निरीक्षण के दौरान बांध में सीपेज होना पाए जाने पर जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री बी.जी.एस सांडिया, सब इंजीनियर एस.के. चौधरी और एसडीओएम.के. रोहतास को निलंबित कर दिया।

बच्चों को पेन दिए

इसके साथ ही बांध के तकनीकी परीक्षण के लिए भोपाल से एक उच्च-स्तरीय टीम भेजी जाएगी। इसी दौरान मुख्यमंत्री चौहान शासकीय हाई स्कूल बिलगांव भी पहुंचे, जहां उन्होंने बच्चों से शैक्षणिक व्यवस्था की जानकारी ली और सवाल जबाव किए। छात्र-छात्राओं ने प्रश्नों का सकारात्मक उत्तर दिया तो उन्होंने प्रोत्साहन स्वरूप विद्यार्थियों को पेन भेंट किए। इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने पिपरिया स्थित जनजातीय बालक आश्रम शाला बड़झर का निरीक्षण भी किया, आश्रम शाला में अनुपस्थिति और लापरवाही के लिये अधीक्षक कमलेश गोलिया को निलंबित करने के निर्देश दिये।

अच्छे काम वालों को दिया इनाम

मुख्यमंत्री चौहान ने ग्राम पंचायत अमठेरा के पोषक ग्राम बड़झर पिपरिया में किसानों द्वारा बीज वितरण संबंधी की गई शिकायत पर उप संचालक कृषि अश्वनी झारिया को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। डिंडौरी जिले में अच्छे कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को शहपुरा हेलीपेड पर पुष्प-गुच्छ देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री चौहान ने मंडला जिला चिकित्सालय के औचक निरीक्षण के दौरान कमियां मिलने पर सिविल सर्जन डॉ. कृपाराम शाक्य को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। यहां जनजातीय बालिका एवं सीनियर बालिका छात्रावास के निरीक्षण के दौरान व्यवस्थाएं दुरुस्त मिलने पर हॉस्टल अधीक्षक प्रभा गुमास्ते को सम्मानित किया।

सीएम भोपाल में रहकर जहां सुबह जिला अधिकारियों से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए हालात का ब्यौरा लेते हैं तो अब उन्होंने सीधे जमीन पर पहुंचने का अभियान छेड़ दिया है। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि राज्य में विधानसभा चुनाव में एक साल से कम का वक्त बचा है। जनता में सबसे ज्यादा नाराजगी यदि किसी को लेकर होती है तो सरकारी मशीनरी से। इन स्थितियों में अगर सरकारी मशीनरी में कसावट लाई जाती है, अफसरों पर कार्रवाई होती है तो जनता में अच्छा सन्देश जाता है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री सक्रिय हुए हैं।

Related posts

VIDEO: आचार संहिता का उल्लंघन, बाइक सवार ने घर-घर फेंके PM मोदी और कृषि मंत्री की फोटो छपे झोले

MPCG NEWS

MP ब्रेकिंग: कुख्यात अपराधी अतीक अहमद के वाहन के आगे आई गाय, देखे VIDEO

MPCG NEWS

घोड़ाडोंगरी: नगर परिषद में हुई प्रभारी मुख्य नगरपालिका अधिकारी ऋषि राज यादव की पोस्टिंग

MPCG NEWS

Leave a Comment