window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); खबर का असर: घोड़ाडोंगरी नगर की 400 मीटर सड़क डामरीकरण को किया रिजेक्ट - MPCG News

खबर का असर: घोड़ाडोंगरी नगर की 400 मीटर सड़क डामरीकरण को किया रिजेक्ट

भोपाल से आया जांच दल, 400 मीटर घटिया निर्माण पुनः होगा

जीत आम्रवंशी, 9691851267
घोड़ाडोंगरी। नगर परिषद घोड़ाडोंगरी में कायाकल्प योजना के अंतर्गत बन रहे सड़क मार्ग में घटिया निर्माण को लेकर क्षेत्र में बन रही गुणवत्ताहीन सड़क निर्माण की खबर दैनिक प्राईम संदेश अखबार में मुख्य रूप से खबर लगाई जा रही थी जिसको सख्त रूप अख्तियार के बाद रोड के घटिया निर्माण की जांच करने रविवार को नगरीय प्रशासन के आयुक्त भरत यादव के निर्देश पर उच्च स्तरीय जांच टीम ने  घटिया सड़क निर्माण की जांच की भोपाल से आये अधिकारीयो ने मौके पर पहुच कर डामरीकरण का सेंपल लेते हुए 500 मीटर बने डामरीकरण में से 400 मीटर डामरीकरण को रिजेक्ट कर फिर से नए सिरे से डामरीकरण करने के निर्देश ठेकेदार को दिये अधिकारीयो के सख्त रवैये से नगर परिषद में अवकाश के दिन हुई जांच से हड़कंप मच गया है।
ज्ञात हो घोड़ाडोंगरी नगर परिषद में 28 लाख रुपये की लागत से लगभग डेढ़ किलोमीटर सड़क पर डामरीकरण कार्य होना था अभी 3 दिन पहले वार्ड क्रमांक 07 में डामरीकरण हुआ था लेकिन डामरीकरण के तीसरे दिन ही गिट्टी निकल बाहर आ गई थी और दुपहिया वाहन गिट्टी में फंसकर गिरने लगे थे जिसके कारण घटिया सड़क का काला कारनामा उजागर हुवा जिसके बाद अखबार में खबर प्रकाशित की गई। जिसको गंभीरता से लेते हुए, वार्ड की पार्षद नेहा दीपक उइके ने मौके पर पहुँचकर सीएमओ के सामने आपत्ति दर्ज करा कर शिकायत की थी डामरीकरण में भारी अनमितियया आरोप लगाया थे।
इसे भी पढ़े – घोड़ाडोंगरी नगर परिषद में कायाकल्प योजना को पलीता लगा रहे ठेकेदार
इस पूरे मामले को लेकर शुक्रवार को भाजपा मण्डल अध्यक्ष राजेश महतो के नेतृत्व में पार्षदों के प्रतिनिधि मंडल ने विधायक श्रीमती गंगा सज्जन सिंह उइके से मिलकर घटिया निर्माण किये जाने की शिकायत किये थे जिस पर विधायक ने नाराजगी जताते हुए मुख्यमंत्री के सचिव और नगरीय प्रशासन के आयुक्त भरत यादव और कार्यपालन यंत्री डी आदित्य कुमार को फ़ोन कर कड़ी कार्यवाही करवाने के निर्देश दिए और साथ ही घटिया निर्माण कार्य को लेकर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव और नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय को पत्र लिखकर एवम मुलाकात कर  निर्माण कार्य की जाँच करवाने की बात कही थी जिस पर उच्च अधिकारियों ने टीम गठित कर रविवार को मौके में पहुँचकर पूरी सड़क का निरीक्षण किया और वाकई में पूरे डामरीकरण में बड़े पैमाने पर धांधली होने की बात स्वीकारते हुए तुरंत मौके पर कार्यवाही की और नगर परिषद के सीएमओ और इंजीनियर पर भी नाराजगी व्यक्त करते है पुनः रोड निर्माण में बारीकी से नजर रखने के आदेश दिए जांच टीम के अधिकारियों ने वार्ड की पार्षद नेहा दीपक उइके को तुरंत आपत्ति दर्ज और घटिया निर्माण कार्य की शिकायत कर के लिए जागरूक जनप्रतिनिधि बताते हुए सराहनीय कदम बताया।
जांच टीम के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री कायाकल्प योजना शासन की बहुप्रतीशिक्षत योजना है इसमे शासन की मंशा है कि इस कार्य मे शासन द्वारा निर्धारित माँपदण्ड के अंतर्गत कार्य करना है और यदि इस कार्य मे यदि कोई लापरवाही की बात आती है तो शासन ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट कर विभागीय कार्यवाही भी त्वरित कर सकता है मौके पर अधिकारीयों ने डामरी का सेम्पल लेकर लेब में इसकी जांच करने की बात कही है।
इसे भी पढ़े –घोड़ाडोंगरी: नगर परिषद में जादू टोने करके अनियमितता से बचने का सहारा
इनका कहना -

लगातार खबर प्रकाशित होने के बाद मेरे द्वारा काया कल्प योजना अंतर्गत निर्मित सड़क घटिया होने की शिकायत पर भोपाल से आई जांच टीम द्वारा जांच पर 400 मीटर सड़क का पुनः निर्माण के आदेश ठेकेदार को दिए गए।

नेहा दीपक उईके, पार्षद घोड़ाडोंगरी

Related posts

ब्रेकिंग MP:जनसुनवाई में गायब रहे बड़े अधिकारी

MPCG NEWS

Fact : 10 वीं बोर्ड की परीक्षाएं अब नहीं होंगी, नयी शिक्षा नीति के तहत, जानिए इस वायरल दावे का सच

MPCG NEWS

VIDEO: एमपी पुलिस की गुंडागर्दी कैमरे में हुई कैद, CM हेल्पलाइन की शिकायत वापस नहीं लेने पर पिटाई

MPCG NEWS

Leave a Comment