window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); MP के लाल का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, CM शिवराज ने शहादत पर किया नमन - MPCG News

MP के लाल का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, CM शिवराज ने शहादत पर किया नमन

कहा- परिवार को एक करोड़ और सरकारी नौकरी दी जाएगी

भोपाल। मध्य प्रदेश के शाजापुर जिले के शुजालपुर निवासी शहीद जवान दीपक चौधरी शनिवार को पूरे राजकीय सम्मान के अंतिम संस्कार किया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारतीय सेना के वीर जवान दीपक चौधरी की शहादत पर नमन किया है। उन्होंने कहा कि शहीद जवान के परिवार को सम्मान निधि स्वरूप एक करोड़ रुपये की राशि और शासकीय सेवा के योग्य व्यक्ति को नौकरी दी जाएगी।

सीएम शिवराज ने सोशल मीडिया पर जारी अपने शोक संदेश में कहा कि वीर जवान दीपक चौधरी ने भारत माता के लिये बलिदान कर दिया। उनकी पत्नी और बेटियां प्रदेश की बहन और भांजियां हैं। हम शहीद जवान के परिवार की पूरी चिंता करेंगे। दीपक चौधरी ने लेह लद्दाख के माइनस डिग्री टेम्परेचर में अपना कर्त्तव्य निर्वहन करते हुए प्राण न्यौछावर कर दिये।

सीएम ने जताया दुख

CM ने शहीद दीपक की आत्मा की शांति और शोकाकुल परिजन को दु:ख सहन करने की शक्ति देने के लिये ईश्वर से प्रार्थना की है। वीर जवान दीपक चौधरी 2006 में भारतीय सेना में पदस्थ हुए थे। लेह लद्दाख (Leh, Ladakh) में अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने से उनका निधन हो गया था। दीपक का पार्थिव देह शुक्रवार शाम भोपाल (Bhopal) लाया गया है। वहीं शनिवार को शुजालपुर मंडी में शहीद जवान का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

कुछ महीनों बाद ही अपनी भारतीय सेना की कार्य अवधि पूरी कर सेवानिवृत होकर शहर आने का वादा कर गए दीपक चौधरी वर्ष 2006 में भारतीय सेना में पदस्थ हुए थे। दीपक ने शुजालपुर मंडी के सरस्वती शिशु मंदिर से वर्ष 2003 में हाईस्कूल व वर्ष 2005 में एक्सिलेंस शारदा स्कूल से हायर सेकेंडरी की परीक्षा पास की थी। शुरू से देश की सेवा का जुनून दीपक के दिलों दिमाग पर था और 2006 में उसने तैयारी कर भारतीय सेना के लिए चयन सुनिश्चित किया था।

शहीद जवान की हैं दो बेटियां

दीपक शुजालपुर के मंडी इलाके के वार्ड 21 में रहते थे। उनके पिता तेज प्रकाश चौधरी शहर में प्राइवेट सर्विस करते हैं। छोटा भाई पवन चौधरी एक निजी बैंक में शुजालपुर में कर्मचारी के रूप में कार्यरत है। दीपक की वर्ष 2008 में शादी हुई थी। बड़ी बेटी 8 वर्षीय कनिष्का व छोटी बेटी 4 वर्षीय प्रगति ही परिवार को जल्द घर आने का वादा कर ड्यूटी पर गए दीपक के शहीद होने की खबर मिलते ही उनके दोस्त व परिवारजन भोपाल पहुंचे हैं।

Related posts

MP में गरीबों के लिए आए PDS चावल की कालाबाजारी

MPCG NEWS

बैतुल : मंच से ऑन द स्पॉट फैसला: शिकायत मिलने पर CMHO समेत चार अधिकारियों को किया सस्पेंड

MPCG NEWS

MP में डॉक्टरों की हड़ताल, तपड़ते रहे मरीज, कमलनाथ बोले आवश्यक कदम उठाएं सरकार

MPCG NEWS

Leave a Comment