window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); सुविधाविहीन बाल प्रतिभा को आगे बढ़ाने कलेक्टर ने दिए निर्देश - MPCG News

सुविधाविहीन बाल प्रतिभा को आगे बढ़ाने कलेक्टर ने दिए निर्देश

लोकेशन कटनी

जिला कटनी

संवाददाता एस एन तिवारी

 

 

सुविधाविहीन बाल प्रतिभा को आगे बढ़ाने कलेक्टर ने दिए निर्देश

 

*सत्येंद्र की बुद्धिमता, आत्मविश्वास और योग कला से प्रभावित हुए कलेक्टर*

कटनी -: सुविधा विहीन प्रतिभाशाली बच्चों को प्रोत्साहित कर उन्हें आगे बढ़ाने को लेकर सहृदयी कलेक्टर कटनी अवि प्रसाद के प्रयास न सिर्फ हर किसी का दिल जीत रहे हैं, बल्कि उनके इन प्रयासों से अन्य प्रतिभाशाली बच्चों के मन में भी आगे बढ़ने की ललक और उम्मीदों को बल मिल रहा है। एक छोटी सी मुलाकात में अपनी प्रतिभा से कलेक्टर श्री प्रसाद को प्रभावित करने वाले नवोदय विद्यालय बड़वारा के एक छात्र की प्रतिभा को और अधिक तराशने और उसे अवसर व मंच प्रदान करने कलेक्टर श्री प्रसाद द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

*कुछ देर की बातचीत में ही किया प्रभावित*

विगत दिनों कलेक्टर श्री प्रसाद जवाहर नवोदय विद्यालय बड़वारा में निरीक्षण के दौरान पहुंचे थे। जहां मौजूद अधिकारियों के समूह को चीरते हुए एक बालक उनकी ओर बढ़ा और कलेक्टर श्री प्रसाद के साथ फोटो खिंचवाने का आग्रह किया। कलेक्टर श्री प्रसाद ने बड़े ही सहज, सुलभ और दुलार के साथ उस बालक से बातचीत शुरू की। नवोदय विद्यालय बड़वारा के कक्षा 7 के छात्र सत्येंद्र परौहा ने कलेक्टर श्री प्रसाद को अपने बारे में बताया कि उसने कक्षा 5 तक की शिक्षा अंग्रेजी के माध्यम के स्कूल से बहोरीबंद में प्राप्त की और फिर अपने पिता की मंशा अनुरूप नवोदय विद्यालय की प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण कर नवोदय विद्यालय में प्रवेश प्राप्त किया। हालांकि कुछ समय बाद ही उसके पिता का दुखद निधन हो गया। बातचीत दौरान बालक सत्येंद्र की बुद्धिमता और आत्मविश्वास ने कलेक्टर श्री प्रसाद को काफी प्रभावित किया। लेकिन इसके साथ ही कलेक्टर श्री प्रसाद सत्येंद्र की योग कला और योग में प्रदेश स्तर पर उसके उत्कृष्ट प्रदर्शन से भी खासे प्रभावित हुए।

*योग कला में करें पारंगत, प्रदान करें अधिक से अधिक अवसर*

बालक सत्येंद्र से प्रभावित कलेक्टर श्री प्रसाद ने नवोदय विद्यालय के प्राचार्य को निर्देशित किया कि पढ़ाई के साथ साथ योग शिक्षक के माध्यम से सत्येंद्र को योग कला में पारंगत कराएं। साथ ही अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिला स्तर पर योग से संबंधित कार्यक्रमों में सत्येंद्र को मंच प्रदान कर उसके कौशल को और निखारा जाए और उसे प्रोत्साहित किया जाए।

Related posts

अभिमन्यु अभियान का दूसरा चरण शुरू* पुलिस ने छात्र छात्राओं को किया जागरूक

MPCG NEWS

वृद्धाश्रम में निवासरत बुजुर्ग अनाथाश्रम के बच्चों के साथ मिलकर खेलेंगे मनोरंजक गेम्स

MPCG NEWS

उत्साह और रोमांच के माहौल में हुआ ड्रोन प्रशिक्षण के प्रोजेक्ट पंख का शुभारंभ

MPCG NEWS

Leave a Comment