window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); सारणी: मिलन ढाबे के संचालक का संदिग्ध अवस्था में मिला शव, हत्या की जताई जा रही आशंका - MPCG News

सारणी: मिलन ढाबे के संचालक का संदिग्ध अवस्था में मिला शव, हत्या की जताई जा रही आशंका

जांच में जुटी पुलिस, 1 घंटे तक चली फॉरेंसिक की जांच

सारनी। बगडोना छतरपुर रोड पर स्थित मिलन ढाबे के एक कमरे में संदिग्ध अवस्था में शव मिलने से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सव की शिनाख्त मिलन ढाबे के संचालक शैलेंद्र साकरे के रूप में हुई। बीते कुछ दिनों से ढाबे का संचालन समीर मसीद के द्वारा किया जा रहा था। मगर ढाबे वास्तविक संचालक शैलेंद्र साखरे है। सुबह लगभग 8:30 से 8:45 बजे के करीब ढाबे के वर्तमान संचालक समीर मस्जिद ढाबे पर पहुंचे तो ढाबे के कमरे से आज की लपटें दिखाई दी। इसके बाद जब देखा तो जला हुआ शव ढाबे के वास्तविक संचालक शैलेंद्र शास्त्री का है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

सारणी एसडीओपी रोशन कुमार जैन अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए। इसके बाद 12 बजे फॉरेंसिक बैतूल की टीम बागडोना मिलन ढाबे पहुंची और लगभग एक घंटा जांच के बाद सैंपल कलेक्ट कर बेतूल रवाना हुई। आगे की जांच पुलिस के माध्यम से की जा रही है। क्षेत्र में सबसे बड़ा चर्चा का विषय बना हुआ है कि शैलेंद्र साखरे की हत्या हुई है या उसने आत्महत्या की है। अगर शैलेंद्र ने आत्महत्या की है तो उसके पीछे क्या कारण है। और यदि शैलेंद्र की हत्या की गई है तो इसके पीछे किसका हाथ है क्या सुनियोजित तरीके से पूरी प्लानिंग के तहत शैलेंद्र की हत्या को अंजाम दिया गया है। इसमें कौन-कौन लोग शामिल है। और किस लिए शैलेंद्र की हत्या की गई है। इस पूरे मामले की जांच पुलिस के माध्यम से तेज कर दी गई है। अब देखना है कि पुलिस कब तक इस पूरे मामले का खुलासा कर पाएगी।

पहले भी कई विवादों में रहा मिलन ढाबा

छतरपुर रोड पर संचालित होने वाला मिलन ढाबा पहले से ही विवादों में है। ढाबे में पहले भी कई तरह के विवाद हो चुके हैं। यही कारण है कि शिक्षित परिवार रात के समय मिलन ढाबा जाने से कतराते हैं। मिलन ढाबे को लेकर पूरे क्षेत्र में चर्चा का बाजार गर्म आया हुआ है। क्षेत्र में चर्चा यह भी है कि ढाबे में कई तरह के रंगारंग कार्यक्रम भी होते है। जिसके कारण भी ढाबा खासा बदनाम है। फिर चर्चा जो भी हो मगर ढाबे के कमरे में वास्तविक संचालक का संदिग्ध अवस्था में सब मिलना पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। पुलिस इस मामले का कब तक और कैसा खुलासा करेगी यहां आने वाला वक्त ही बताएगा।

इनका कहना है –
रोशन कुमार जैन, SDOP थाना सारणी

मिलन ढाबे में संदिग्ध अवस्था में शव की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। शव की शिनाख्त मिलन ढाबा संचालक शैलेंद्र के रूप में हुई है l हत्या है या आत्महत्या इस बात की पुष्टि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हो पायेगा । पुलिस के द्वारा कार्रवाई की जा रही है।

Related posts

मुलताई: भ्रष्ट अधिकारियों को संरक्षण देने वाले भाजपा नेताओ को ईमानदारी की बात करना शोभा नही देता – सुखदेव पांसे

MPCG NEWS

Betul ब्रेकिंग: पेपर बिगड़ने से 12 वीं की छात्रा ने फांसी पर लटककर दी जान

MPCG NEWS

MP ब्रेकिंग: छिंदवाड़ा में नाबालिग से दुष्कर्म, दो गिरफ्तार

MPCG NEWS

Leave a Comment