window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); शिवराज सरकार में प्रलोभन और बहकावे का शिकार हो रही गांव की बेटियां। - MPCG News

शिवराज सरकार में प्रलोभन और बहकावे का शिकार हो रही गांव की बेटियां।

मध्य प्रदेश में सुरक्षित नहीं है बेटियां। नियमों को ध्यान में रखकर समाज के लोग कर रहे बहन बेटियों की दलाली।

जुन्नारदेव। राकेश कुमार बारासिया

जुन्नारदेव विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत जनपद पंचायत के ग्राम कोहानियां रैयत थाना उमरेठ में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें आर्थिक तंगी से गुजर रहे परिवार की बेटी को नियमों को ध्यान में रखते हुए 18 वर्ष के होते ही बिना परिवार की अनुमति के जिले से बाहर किसी अन्य व्यक्ति के साथ विवाह करवा दिया गया। परिवार वालों से प्राप्त जानकारी के अनुसार संगीता पगारे जो की घर में सबसे छोटी बेटी है, गांव में ही रहने वाले सामाजिक व्यक्ति माखन पगारे द्वारा अप्रैल 2022 को जब संगीता की उम्र 17 वर्ष थी जबरदस्ती बिना परिवार की सहमति के काम पर नर्मदापुरम ले जाया गया। परिवार वालों के विरोध करने के बाद माखन एवं उसकी पत्नी सरोज पगारे द्वारा संगीता को वापस घर लाकर छोड़ दिया गया। इसी क्रम में पिछले वर्ष 2022 से संगीता के घर ग्राम में रहने वाले संदीप पगारे का बहुत ज्यादा आना-जाना होने लगा। परिवार के जब सभी सदस्य काम पर चले जाते, और घर पर संगीता अकेली होती तो विशेष कर संदीप पगारे घर पर आता जाता था। जब संगीता की उम्र 17 वर्ष थी संदीप पगारे द्वारा उसे पैसों का प्रलोभन दिया गया और उसे मोबाइल भी खरीद कर दिया गया। एवं किसी व्यक्ति का नंबर भी दिया गया जिससे संगीता और उस व्यक्ति के साथ बातचीत होती थी। संगीता पिछले वर्ष तक कक्षा दसवीं की छात्रा थी। सोची समझी साजिश के तहत मई 2023 को संगीता 18 वर्ष की होने वाली थी इन सब बातों की जानकारी माखन और संदीप को थी। संदीप माखन एवं सरोज द्वारा साल भर तक संगीता को अन्य किसी व्यक्ति के साथ प्यार के जाल में फंसा कर गुमराह करते रहे। पर जैसे ही इस वर्ष मई 2023 में संगीता 18 वर्ष की हुई वैसे ही इन सभी के द्वारा मिलजुल कर संगीता को उसे अन्य व्यक्ति के पास भेज कर विवाह संपन्न करा दिया गया। एवं गांव के लोगों को संगीता के विवाह की फोटो दिखाई जाने लगी। परिवार वालों का आरोप है कि हमारी बेटी संगीता को माखन सरोज एवं संदीप पगारे द्वारा बहला फुसला कर प्रलोभन देकर मोबाइल आदि दिलाकर अन्य किसी व्यक्ति के प्यार के जाल में फसाया गया और जबरदस्ती जानबूझकर किसी अन्य समाज के व्यक्ति को बेच दिया गया है।

 

परिवार वालों ने संगीता पगारे के वापस न आने पर उमरेठ थाना में जाकर गुमशुदा की शिकायत दर्ज कराकर पुलिस वालों को यह भी बताया है कि उन्हें माखन संदीप एवं सरोज पगारे पर हमारी बेटी को बेच दिए जाने का शक है। लेकिन अभी तक थाना उमरेठ द्वारा किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है परिवार वालों ने इस मामले की शिकायत जिला पुलिस अधीक्षक को भी की है परिवार वालों का कहना है कि समस्त जानकारी देने के बाद भी थाना उमरेठ द्वारा या जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा किसी प्रकार की कोई कार्यवाही अभी तक नहीं की गयी है। और ना हीं माखन संदीप एवं सरोज से कोई पूछताछ की गई है। अगर इस तरह के शातिर अपराधियों पर शिकंजा नहीं कसा गया तो, अपराधियों के हौसले बुलंद रहेंगे और गांव समाज की बहन बेटियां ऐसे ही दलाली का शिकार होती रहेगी और अपना जीवन नर्क में झोंकती रहेंगी।

प्राप्त जानकारी में यह भी पता चला है की जिला पुलिस अधीक्षक को शिकायत करने के बाद माखन संदीप और सरोज पगारे ग्राम कोहनियां रैयत से गायब हो चुके हैं या ऐसा कहें की भाग चुके हैं। ताकि पुलिस उन तक न पहुंच पाए और नहीं उन्हें पकड़ पाए।

Related posts

बेटे ने पत्थर से कुचलकर पिता को उतारा मौत के घाट, कुछ दिन पहले आरोपी की पत्नी ने की थी आत्महत्या

MPCG NEWS

माननीय मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी ने धोखाधड़ी के मामले में आरोपियों को दी 7 साल का सश्रम कारावास की सजा।

MPCG NEWS

घर में घुसकर छेड़ छाड़ करने वाले आरोपी को एक साल का कारावास

MPCG NEWS

Leave a Comment