window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); मिनी आंगनवाड़ी को आंगनबाड़ी केंद्र बनाने परियोजना अधिकारी कर रही पैसों की मांग। - MPCG News

मिनी आंगनवाड़ी को आंगनबाड़ी केंद्र बनाने परियोजना अधिकारी कर रही पैसों की मांग।

जुन्नारदेव     राकेश कुमार बारासिया

जुन्नारदेव विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले समस्त आंगनबाड़ी केंद्र के साथ सरकार द्वारा मिनी आंगनवाड़ी केंद्र भी स्थापित की है जिसमें मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कार्य करती है। सभी मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा आज अनुविभागीय अधिकारी जुन्नारदेव के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किया गया। जिसमें शिकायत करते हुए सभी मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने कहा कि परियोजना अधिकारी प्रेरणा मर्सकोले द्वारा नवनीत अग्रवाल उर्फ मोनू अग्रवाल निवासी वार्ड न. 2 के माध्यम से पैसों की मांग की जा रही है। एक मिनी आंगनवाड़ी को आंगनबाड़ी केंद्र बनाने के लिए प्रत्येक मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से ₹50000 की मांग मोनू अग्रवाल द्वारा वार्ड नंबर तीन में बुलाकर की गई थी। सभी मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने ₹50000 की राशि देने से यह कहकर मना कर दिया कि हमें तो केवल महीने का ₹5000 ही मिलता है अगर हम ₹50000 दे देंगे तो हमारा घर खर्च कैसे चलेगा तब कहीं जाकर नवनीत अग्रवाल एवं परियोजना अधिकारी प्रेरणा मर्सकोले ₹30000 की राशि लेकर मिनी से आंगनबाड़ी केंद्र बनाने वाली बात पर सहमत हुए। परियोजना अधिकारी का कहना है की भोपाल से आदेश आया है मिनी आंगनवाड़ी को आंगनबाड़ी केंद्र बनाने के लिए पैसे लगेंगे ही। अगर आप लोग पैसे नहीं देंगे तो आपका मिनी आंगनवाड़ी मुख्य आंगनवाड़ी में परिवर्तित नहीं होगा। साथ ही परियोजना अधिकारी द्वारा मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है। आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करके उन्हें प्रताड़ित किया जाता है। अगर समय से 5 मिनट भी मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता लेट होती है या विलंब से पहुंचती है तो दोनों हाथ ऊपर कराकर सबके सामने (पनिशमेंट) दंड दिया जाता है कभी-कभी एक हाथ खड़ा करके दंड दिया जाता है। मीनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की शिकायतों अनुसार परियोजना अधिकारी प्रेरणा मर्सकोले उन्हें धार्मिक अपशब्द कहकर जान बूझकर उनकी आस्था को ठेस पहुंचाती है। हाल ही में नवरात्रि का पर्व मनाया गया जिसमें कुछ मीनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का उपवास भी था, जिसमें अष्टमी नवमी के दिन उपवास रखकर कार्यकर्ता अपने काम पर गई थी, प्रेरणा मर्सकोले द्वारा उनसे कहा गया कि भगवान वगेरह कोई कुछ नही होता अगर भगवान होता तो तुम ऐसी हालत में नही होती। तुम अगर उपवास रख रही हो तो रखो, अगर तुम मर भी जाओगी तो भी तुम्हें काम करना पड़ेगा। इस तरह से और भी अपमानजनक शब्द जैसे गोबर, मूर्ख, जाहिल, गंवार, अनपढ़, जैसे शब्दों का भी प्रयोग परियोजना अधिकारी द्वारा किया जाता है।साथ ही उनके द्वारा यह भी कहा जाता है कि जिसको जहाँ लगता है मेरी शिकायत कर दो, कोई नेतागिरी कर लो कोई मेरा कुछ नही बिगाड़ सकता।

आज अनुविभागीय अधिकारी के समक्ष उपस्थित मिनी कार्यकर्ताओ को इस बात का भी डर है कि आज आवेदन देने के पश्चात परियोजना अधिकारि द्वारा उन्हें और ज्यादा टारगेट करके खास तौर पर परेशान किया जावेगा। इस प्रकार की समस्त शिकायतें लेकर आज मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता अनुविभागीय अधिकारी जुन्नारदेव के समक्ष उपस्थित हुई।
जिसमें मुख्य रूप से किरण साहू, संगीता भलावी, कविता पवार, मीरा आम्रवंशी, सरोज यादव, ललिता उइके, उर्मिला, किरण यदुवंशी, विजयकुमारी धुर्वे, चित्रा बेलवंशी इन सभी ने परियोजना अधिकारी के खिलाफ ज्ञापन सौपा  है।

Related posts

*अवैध धंधे वालों ने अंम्बाडा़ आकर दो लोगों की बेरहमी से की पिटाई,*

MPCG NEWS

जिला स्तरीय महिला क्रिकेट प्रतियोगिता एवं संभाग स्तरीय चयन प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

MPCG NEWS

नगर पार्षद के नाक के नीचे की सड़क हुई दलदल में तब्दील प्रशासन भी नहीं दे रहा ध्यान रहागीरों को हो रही भारी परेशानी

MPCG NEWS

Leave a Comment