window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'G-VQJRB3319M'); बड़ा खुलासा, मुलताई नपा CMO ने 15 वे वित्त की राशि से मात्र 18 दिन में 10 लाख रुपए का डीजल खरीदा - MPCG News

बड़ा खुलासा, मुलताई नपा CMO ने 15 वे वित्त की राशि से मात्र 18 दिन में 10 लाख रुपए का डीजल खरीदा

नपा अध्यक्ष सहित पार्षदो ने पत्रकार वार्ता में किया भ्रष्टाचारी सीएमओ का खुलासा

मुलताई। नगर पालिका परिषद में बीते अप्रैल माह में मात्र 18 दिन में नगर पालिका में लगभग 10 लाख रुपए डीजल खरीदी में व्यय किए। बीते 8 अप्रैल 2022 से 26 अप्रैल 2022 तक 9261.31 लीटर डीजल खरीदी पर 15 वे वित्त आयोग के तहत नगर पालिका को मिली राशि व्यय की गई। इसका खुलासा विधायक सुखदेव पांसे द्वारा विधानसभा सत्र में उठाए गए तारांकित प्रश्न के जवाब में दी गई जानकारी से हुआ है।विधायक श्री पांसे ने मुख्य नगरपालिका अधिकारी नितिन कुमार बिजवे द्वारा 15 वे वित्त आयोग की राशि का दुरुपयोग किए जाने की शिकायत प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग को बीते 29 दिसंबर 2022 को की है। इस बात की जानकारी बुधवार को नगर पालिका में आयोजित पत्रकार वार्ता में नगर पालिका अध्यक्ष नीतू प्रहलाद सिंह परमार सभापति अंजली सुमित शिवहरे, पंजाब राव चिकाने, सुरेश पौनीकर ने दी। विधायक श्री पांसे ने प्रमुख सचिव को सौपी शिकायत में बताया तारांकित प्रश्न क्रमांक 1398 के उत्तर में दी गई व्यय संबंधी जानकारी में नगर पालिका मुलताई में पदस्थ  सीएमओ नितिन बिजवे द्वारा 15 वे वित्त आयोग के अंतर्गत नगरीय निकायों को जारी अनुदान उपयोग के दिशानिर्देशों का उल्लंघन कर गंभीर वित्तीय अनियमितता की जाना प्रतीत होता है जिसमें 18 दिन में लगभग 10लाख रुपए का डीजल खरीदने, श्री महाकाल फ्लेक्स को 8 अप्रैल 2022 को 4526 नग फ्लेक्स और 29 जून 2022 को 263 नग फ्लेक्स बैनर का भुगतान किया गया है इतनी बड़ी मात्रा में नगर पालिका परिषद द्वारा फ्लेक्स बैनर बनाने पर राशि का व्यय किया जाना संदेहास्पद है इन दोनों तिथियों में कुल 4789 फ्लेक्स बैनर निविदा आमंत्रित किए बिना कोटेशन लेकर क्रय किए गए हैं।जो मध्य प्रदेश नगर पालिका लेखा एवं वित्त नियम 2018 के अंतर्गत बने नियमों का उल्लंघन है वही नगर पालिका में 28 अप्रैल 2022 को 10 हजार किलोग्राम ब्लीचिंग पाउडर क्रय किया गया है।ब्लीचिंग पाउडर क्रय तिथि से 8 माह बाद भी नगर की जल आवर्धन योजना अंतर्गत निर्मित फिल्टर प्लांट का उपयोग आरंभ नहीं हुआ है। इस स्थिति में इतनी बड़ी मात्रा में ब्लीचिंग पाउडर खरीदना भी संदेह के दायरे में हैं साथ ही 13 अप्रैल 2022 और 17 मई 2022 को सेल्फी प्वाइंट पर, 8 अप्रैल 2022 को नगर पालिका भवन के लिए प्लास्टिक क्रय करने , रेवेन्यू कलेक्शन के लिए लाकर का करने 18 मई और 6 जून 2022 को सीसीटीवी कैमरे खरीदने के एवज में 15 वे वित्त आयोग की राशि नियमों को दरकिनार कर व्यय की गई है श्री पांसे ने 15 वे वित्त आयोग के नगरी निकाय को जारी अनुदान उपयोग के दिशानिर्देशों का सीएमओ द्वारा किए गए उल्लंघन की जांच कर कार्रवाई करने की मांग प्रमुख सचिव से की है।

इसे भी पढ़े – सारणी: भाजपा ओबीसी मोर्चा के मण्डल प्रभारी बने अर्जुन यादव
आधी अधूरी जानकारी देकर गुमराह करने का आरोप

विधायक पांसे ने नपा सीएमओ द्वारा विधानसभा में 15 वे वित्त आयोग अंतर्गत नगर पालिका मुलताई को आवंटित राशि की अधूरी जानकारी देकर गुमराह किए जाने का आरोप भी लगाया है श्री पांसे ने प्रमुख सचिव को सौपी  शिकायत में बताया उनके द्वारा विधानसभा में उठाए गए तारांकित प्रश्न के जवाब में केवल वित्तीय वर्ष 2022 23 की जानकारी प्रदान की गई है जबकि उन्होंने प्रश्न में 15 वे वित्त की राशि आवंटन जिस वर्ष से प्रारंभ हुआ उस वर्ष से जानकारी मांगी थी लेकिन नपा सीएमओ ने बीते वर्षो की जानकारी छिपाकर गुमराह किया है श्री पांसे ने मुख्य सचिव से मांगी गई संपूर्ण जानकारी प्रदान करने और आधी अधूरी जानकारी प्रदान कर गुमराह करने वाले नपा सीएमओ के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की मांग की है।

इसे भी पढ़े – छिंदवाड़ा: आदिवासी लड़की से गैंगरेप, 3 दोस्तों ने दिया वारदात को अंजाम, तीनों गिरफ्तार, जांच जारी
कॉउ कैचर खरीदी में भी हुई वित्तीय अनियमितता

नगर पालिका में बिना तकनीकी स्वीकृति के कॉउ कैचर खरीदकर वित्तीय अनियमितता करने का आरोप विधायक श्री पांसे ने लगाया है श्री पांसे ने प्रमुख सचिव को की गई शिकायत में बताया नपा सीएमओ नितिन कुमार बिजवे द्वारा 15 वे वित्त आयोग  की राशि में से 4 लाख 60 हजार रुपए कीमत का काऊ कैचर जेम पोर्टल के माध्यम से खरीदा है। काऊ कैचर की तकनीकी स्वीकृति प्राप्त किए बिना 6 अप्रैल 2022 को स्वीकृति आदेश जारी किया गया 12 अप्रैल को सप्लायर मैसर्स ज्योति इंडस्ट्रीज भोपाल द्वारा काऊ कैचर नगर पालिका परिषद मुलताई प्रदान किया गया। स्वीकृति आदेश जारी होने के पश्चात मात्र एक सप्ताह के भीतर ही काऊ कैचर प्रदाय किया जाना और काऊ कैचर की खरीदी के एवज में 4 माह बाद 10 अगस्त 2022 को सप्लायर को राशि का भुगतान करना संदेहास्पद प्रतीत होता है। काऊ कैचर के बिल का सत्यापन भी नपा के उपयंत्री द्वारा नहीं किया गया और बिना सत्यापन के बिल का भुगतान कर दिया गया जो कि मध्य प्रदेश नगर पालिका लेखा एवं वित्त नियम 2018 का उल्लंघन है श्री पांसे ने काऊ कैचर खरीदी में हुई वित्तीय अनियमितता की जांच की मांग की है।

Related posts

सारणी: चुनिंदा पत्रकारों को रातों रात बाट रहे विज्ञापन, जानिए क्या है वजह ?

MPCG NEWS

ब्रेकिंग: किसके सिर सजेगा CM का ताज ? 3 राज्यों के CM फेस को लेकर आया नया अपडेट…

MPCG NEWS

ब्रेकिंग: फिर हैक हुआ पूर्व CM का सोशल मीडिया अकाउंट, रिकवरी में जुटे आईटी एक्सपर्ट

MPCG NEWS

Leave a Comment